संत ज्ञानेश्वर का नामदेव से मिलने जाना 

naam2

नामदेव

  आदर्श: शाश्वत सत्य 

  उप आदर्श: सब एक हैं

   नामदेव एक भक्तिपरक व्यक्ति थे और सदैव प्रभु के गुणगान में मग्न रहते थे. इस कारण वह अपने पारिवारिक कर्त्तव्यों की ओर ध्यान नहीं देते थे. उनकी बहन जनाबाई ने उन्हें सलाह दी कि वह किसी धनवान व्यक्ति से पैसे उधार लेकर कपड़े बेचने का व्यापार करें और उससे जीविका कमाएं. 

naam

   नामदेव सहमत हो गए और कपड़े बेचने एक गाँव से दूसरे गाँव जाने लगे. अपने सफ़र के दौरान एक गाँव में सभी ग्रामवासियों को रोते देखकर वह उनसे उनकी वेदना का कारण पूछने लगे. गाँववालों ने नामदेव को बतलाया कि डाकुओं ने उनके गाँव को लूट लिया था और वह सब अन्न, धन व कपड़ों से वंचित थे.

  ग्रामवासियों की दयनीय अवस्था देखकर नामदेव सारे कपड़े मुफ़्त में वितरित कर देते हैं. नामदेव को खाली हाथ घर लौटते देखकर उनकी पत्नी उन्हें छोड़कर अपने मायके चली जाती है. नामदेव को अपनी पत्नी व बच्चों से अलग देखकर जनाबाई पीड़ायुक्त होकर विलाप करती है और कृष्ण से प्रार्थना करती है. 

   नामदेव को अपने साथ उत्तरी भारत की तीर्थयात्रा कराने के इरादे से संत ज्ञानेश्वर नामदेव से मिलने आए हुए थे. जनाबाई को रोते देखकर उन्होंने पूछा, “क्या बात है, जनाबाई? “naam1

   जनाबाई बोली, “भइया, अपने बच्चों को दुखी देखकर क्या भगवान् को ख़ुशी मिलती है?”

   ज्ञानेश्वर पूछते हैं, “क्या यह तुम बोल रही हो?”

   जनाबाई बोली, “आपने देखा नहीं नामदेव के साथ प्रभु कितनी बेरहमी से पेश आए हैं?”

“बहन, तुम भूल रही हो कि यह सब मात्र एक स्वप्न है. एक केवल ईश्वर ही है जो देता है. जना, यह सब विट्ठल की माया है- जिसने लूटा है वह विट्ठल है; जिसको लूटा है वह विट्ठल है; नामदेव, जिसने मदद की है वह भी विट्ठल है; तुम, जो रो रही हो वह भी विट्ठल है; समस्त संसार विट्ठल है. जब तुम्हें इसका अहसास हो जाएगा तब तुम कभी परेशान नहीं होगी.”

naam4

   सीख:

   शाश्वत सत्य यह है कि ईश्वर सर्वव्यापी है और समस्त संसार ही ईश्वर है. कहीं भी द्वैतवाद नहीं है. हम जो भी देखते या अनुभव करते हैं, सब एक ही है.

source: http://www.saibalsanskaar.wordpress.com

    अनुवादक- अर्चना 

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s